33.2 C
Uttar Pradesh
Thursday, June 20, 2024

वन विभाग में भ्रष्टाचार की वानगी.?

वन विभाग में भ्रष्टाचार की वानगी.?
कांदिवली पश्चिम, साईधाम नगर चारकोप कांदिवली में कान्दलवन (मैन्ग्रोव) विभाग के भ्रष्ट अधिकारियो द्वारा तीन से चार बार तोड़क कार्यवाई करने के बावजूद झोपड़ा धारकों से मोटी रकम लेकर एक एक झोपड़े पर चार चार बार प्रमाण पत्र अलग अलग नाम से अवैध तरीके से दिया गया हैं। जिसका कोई आधिकारिक रिकार्ड वन विभाग कार्यालय में मौजूद नही है साथ ही झोपड़ा धारक के आवेदन पत्र जिस पर प्रमाण पत्र जारी किया गया है उस आवेदन पत्र की कापी या अन्य रिकार्ड मौजूद नही हैं। इसलिये यह बात साफ हो रहा है कि कान्दलवन (मैन्ग्रोव) विभाग द्वारा बड़े पैमाने पर भ्रष्टाचार किया गया है। ज्ञात हो कि कई संगठनों का शिष्टमंडल अप्पर प्रधान मुख्य वन संरक्षक अधिकारी वासुदेवन एवं वन मंत्री को मिलकर लिखित शिकायत पत्र दिया था। मग़र अभी तक ढाक के तीन पात जैसे ही कवावत बनी हुई है। वही स्थानीय संगठनों ने मुख्यमंत्री जी से मांग की है कि वन विभाग में चल रहे भ्रष्टाचार को संज्ञान में लेते हुए ऐंटी-करप्सन विभाग या राज्य सरकार विजिलेंस विभाग द्वारा जांच बिठाकर अवैध तरीके से नोटिस जारी करने वाले भ्रष्ट अधिकारियो को निलंबित करते हुए स्थानीय पुलिस स्टेशन में गुनाह दाखिल करने की कार्यवायी की जाये।
ताजा खबर
सम्बंधित खबर

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें