33.2 C
Uttar Pradesh
Thursday, June 20, 2024

जुगार माफियाओं का अड्डा बना कल्याण एवं डोम्बिवली …

जुगार माफिया पवन सेठ का चलता ऑनलाइन जुगार.?
डोम्बिवली पूर्व। ठाणे पुलिस और जुगार माफियाओं का आंख मिचौली का खेल कब खत्म होगा ऐसी चर्चा डोम्बीवली पूर्व यशोधाम बिल्डिंग के रहिवासियों एवं व्यापारियों में है। आपको बता दें कि डोम्बिवली में अवैध रूप से चलने वाले मटका एवं जुगार के धंधों की सुनामी है। अखबारों में बार बार खबरें प्रकाशित होने के बाद भी पुलिस प्रशासन जानकर अनजान बैठी है। ऐसा लगता है कि अपने देश में बेईमानी और भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई लड़ना टेढ़ी खीर साबित हो रही है। सरकारी तंत्र भ्रष्टाचार की चाशनी में ऐसा नहाया हुआ है कि उसे हमाम के साबुन से कितना भी नहलाओ लेकिन वो निकलने वाला नहीं है। अब तो शासन प्रशासन भी भ्रष्टाचार के आकंठ में डूबा हुआ है। जुगार के धंधे में प्रशासन की हिस्सेदारी ये दर्शाता है कि कानून व्यवस्था का कितना बड़ा मजाक उड़ाया जा रहा है। ऐसा ही एक मामला तिलक नगर पुलिस स्टेशन क्षेत्र डोबिवली पूर्व में चार रास्ते पर जोधपुर मिठाई वाले के सामने यशोधाम बिल्डिंग के गाला नम्बर 02 में ऑनलाइन गोल्डन लॉटरी मशीन की आड़ में जुगार का व्यवसाय चलाया जा रहा है, जिसमे सिंगल आंकड़े का श्योरेट लॉटरी का खेल खेला जा रहा है। और सरकारी राजस्व को चुना लगाया जा रहा है, ऐसा नही की स्थानीय पुलिस इस लॉटरी व्यवसाय से अनिभिज्ञ है बल्कि जुगार माफिया पवन सेठ का बोलना है कि समय पर स्थानीय पुलिस एवं उच्च अधिकारियों तक मिठाई पहुंचाता हूँ.? क्या भ्रष्टाचार रूपी मिठाई खाने वाले अधिकारी को यह नही पता कि लॉटरी की आड़ में चलने वाले जुगार से कितने घर बर्बाद हो रहे है, कितने परिवार आत्महत्या के लिए मजबूर है, कितने घर जुगार की वजह से तंगहाली से टूटने के कगार पर है?
ताजा खबर
सम्बंधित खबर

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें